गोरखपुर: तीन दिन में 3 शूटआउट से दहली सीएम सिटी!


तीन दिन में 3 शूटआउट से दहली सीएम सिटी!

एसएसपी (SSP) जोगेंद्र कुमार पुलिस को सड़क पर गश्त बढ़ाने की नसीहत दे रहे हैं, पुलिस (Police) है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रही है.

गोरखपुर. सीएम सिटी गोरखपुर (Gorakhpur) में 72 घंटे में तीन शूटआउट (Shoot Out) की वारदात से सनसनी मची है. बीती 19 सितंबर को चिलुआताल थाना के ताजडीह में कृष्णा दूबे नाम के युवक को गांव के ही दो बदमाशों ने गोली मारकर घायल किया गया था, जबकि रविवार को शाहपुर में अज्ञात बदमाशों ने मां-बेटी पर ताबड़तोड़ फायरिंग करके महिला प्रिसिंपल की हत्या की. महिला की घायल बेटी मेडिकल कालेज में भर्ती है. शाहपुर पुलिस के मुताबिक नामजद तीन अभियुक्तों सहित दर्जन भर से ज्यादा लोगोंं से पूछताछ चल रहा है. पुलिस शूटरों के तलाश में लगी है. अभी तक की जांच में जमीन विवाद ही सामने आ रहा है.

अभी पुलिस इस मामले को सुलझा पाती कि इसके पहले ही सोमवार को ही बदमाशों ने चार किलोमीटर तक दिनदहाड़े फिल्मी अंदाज में हवाई फायरिंग कर एक युवक को गोली मार दी. कैंट इलाके में दो पक्षों के विवाद में गोली चलने की वारदात ने पुलिस टीम को खुली चुनौती दी है. इस मामले में एसएसपी जोगेंद्र कुमार का कहना है कि दरअसल दो पक्षों में पुरानी रंजिश को लेकर गोली चलने की बात सामने आ रही है.

ये भी पढे़ं- UP: ‘मुझे देखकर ताले भी मुस्कुराते हैं’ डायलॉग बोलकर थाने से फरार हुआ जुगनू चोर

घायल युवक ने दो हमलवारों के नाम बताए हैं. ऐसे में एसपी सिटी की अगुवाई में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम को लगाया गया है. वहीं मौके से एक संदिग्ध बाइक और कारतूस मिलने की बात भी एसएसपी ने कही है. खासतौर पर जिले की कमान संभाल रहे नवागत एसएसपी जोगेंद्र कुमार की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है. एसएसपी जोगेंद्र कुमार पुलिस को सड़क पर गश्त बढ़ाने की नसीहत दे रहे हैं, पुलिस है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रही है. ऐसे में अपराध पर लगाम कैसे लगेगा यह एक बड़ा सवाल है?





Source link