‘टीके’ की तैयारी: देश में कोरोना की दो वैक्सीन को मिली मंजूरी, जानिए वैक्सीन लगवाने के लिए कैसे कराना होगा रजिस्ट्रेशन
  • Hindi News
  • Happylife
  • CoWIN App Coronavirus Vaccine Registration Guide | How To Register, Necessary Documents, Cost And All You Need To Know

7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • फरवरी तक 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन मुफ्त दी जाएगी
  • देशभर में 27 करोड़ बुजुर्गों को भी प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन दी जाएगी

करीब 10 दिन बाद देश में कोरोना से निपटने के लिए वैक्सीन प्रोग्राम शुरु हो सकता है। 3 जनवरी को ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया ने कोरोना की दो वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल करने की मंजूरी दी है। इसमें सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ‘कोवीशील्ड’ और भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ शामिल है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के मुताबिक, वैक्सीन की पहली डोज फ्रंटलाइन वर्कर को दी जाएगी।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के मुताबिक, टीकाकरण की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होगा। जानिए, कैसे रजिस्ट्रेशन कराएं और राज्यों की तैयारियां कैसी हैं….

वैक्सीन के लिए ऐसे करना होगा रजिस्ट्रेशन

  • इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, रजिस्ट्रेशन के लिए गूगल प्ले स्टोर से Co-win ऐप डाउनलोड करना होगा। ध्यान रखें, अभी इस ऐप को डेवलप किया जा रहा है।
  • सरकार की ओर से घोषणा जारी होने के बाद ही इसे डाउनलोड करना होगा। ऐप आपका पर्सनल डाटा एक्सेस कर सके, आपको इसकी मंजूरी देनी होगी।
  • केंद्र सरकार की ओर से घोषणा होने के बाद इस ऐप की मदद से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।
  • ऐप एक्टिव होने पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन मिलेगा। रजिस्ट्रेशन के दौरान फोटो आईडी प्रूफ देना होगा।
  • आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस या पैन कार्ड की कॉपी अपलोड करनी होगी।
  • रजिस्ट्रेशन के बाद वैक्सीन कहां लगना है, कैंप की जानकारी जाएगी।

अभी 3 करोड़ लोगों को मिलेगी मुफ्त वैक्सीन
देश में फरवरी तक 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन मुफ्त दी जाएगी। देशभर में 27 करोड़ बुजुर्गों को भी प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन दी जाएगी। सरकार अभी वैक्सीन कंपनियाें से खरीदी के लिए एग्रीमेंट की शर्तें तय कर रही है।

किसको टीका पहले टीका, यह कमेटी तय करेगी
जिन लोगों की उम्र 50 साल से कम है और उन्हें कोई गंभीर रोग हैं, उनकी पहचान होगी। इसके लिए केंद्र सरकार ने विशेषज्ञों की उच्च स्तरीय कमेटी बनाई है। कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख प्रो. वीके पॉल ने बताया कि यह कमेटी तय करेगी कि कौन-कौन सी बीमारी ऐसी हैं, जिनसे जान को खतरा है। कमेटी दो दिन में रिपोर्ट दे देगी।

राज्यों की तैयारियां: वैक्सीनेशन बूथ बने, अब सिर्फ इंतजार

  • मप्र: 5 लाख फ्रंटलाइन कर्मियों को टीका लगेगा। डेढ़ करोड़ लोगों को टीका लगाने के लिए 10 हजार सेंटर बनेंगे।
  • यूपी: तीन चरणों में 3.5 करोड़ लोगों को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए 3 हजार वैक्सीनेशन सेंटर बन रहे हैं।
  • पंजाब: 1.6 लाख हेल्थ वर्कर्स के साथ 1.25 करोड़ लोगों को टीका लगाया जाएगा। 11 हजार केंद्र बनाए गए हैं।
  • गुजरात: 40 हजार केंद्रों में रोजाना 16 लाख लोगों को टीका लगेगा। जुलाई तक 1.23 करोड़ को टीका लगाने की तैयारी है।
  • हरियाणा: पहले चरण में 6 लाख हेल्थ वर्करों को टीका। जुलाई तक 67 लाख लोगों को टीका लगेगा। 800 केंद्र बने।
  • राजस्थान: हेल्थवर्करों समेत 10 लाख को टीका लगेगा। जुलाई तक 1.65 करोड़ लोगों को 2400 केंद्रों पर टीके लगेंगे।

Source link