बीमा अपडेट: अप्रैल से आगलगी व अन्य दुर्घटनाओं पर 3 स्टैंडर्ड योजना पेश करेंगी साधारण बीमा कंपनियां, IRDAI ने दिया आदेश
  • Hindi News
  • Business
  • IRDAI Orders General Insurance Companies To Introduce 3 Standard Plans On Fire And Allied Peril From April

नई दिल्ली42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भारत गृह रक्षा आवासीय मकान और घरेलू सामानों के लिए है, भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा उन उद्यमों के लिए है, जिनमें जोखिम वाली संपत्तियों का कुल वैल्यू अधिकतम 5 करोड़ रुपए है, भारत लघु उद्यम सुरक्षा उन उद्यमों के लिए है, जिनमें जोखिम वाली संपत्तियों का कुल वैल्यू 5 करोड़ रुपए से ज्यादा और अधिकतम 50 करोड़ रुपए तक है

  • तीन प्रॉडक्ट्स भारत गृह रक्षा, भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा और भारत लघु उद्यम सुरक्षा स्टैंडर्ड फायर एंड स्पेशल पेरिल्स पॉलिसी की जगह लेंगे
  • आगलगी व अन्य दुर्घटनाओं से जुड़े बीमा देने वाली सभी साधारण बीमा कंपनियों को 1 अप्रैल 2021 से अनिवार्य तौर पर ये उत्पाद पेश करने होंगे

भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने साधारण बीमा कंपनियों को आदेश दिया कि वे एक अप्रैल से अनिवार्य तौर पर आगलगी व अन्य दुर्घटनाओं के जोखिमों को कवर करने वाले तीन स्टैंडर्ड उत्पाद पेश करें। बीमा नियामक ने कहा कि स्टैंडर्ड फायर एंड स्पेशल पेरिल्स (SFSP) पॉलिसी की जगह ये तीन प्रॉडक्ट़स ले लेंगे। इन तीन प्रॉडक्ट्स में भारत गृह रक्षा, भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा और भारत लघु उद्यम सुरक्षा शामिल हैं।

नियामक ने एक बयान में कहा कि आगलगी व अन्य दुर्घटनाओं से जुड़े बीमा कारोबार करने वाली सभी साधारण बीमा कंपनियों को 1 अप्रैल 2021 से अनिवार्य तौर पर ये उत्पाद पेश करने होंगे। भारत गृह रक्षा आवासीय मकान और घरेलू सामानों के लिए है। भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा उन उद्यमों के लिए है, जिनमें जोखिम वाली संपत्तियों का कुल वैल्यू अधिकतम 5 करोड़ रुपए है। भारत लघु उद्यम सुरक्षा उन उद्यमों के लिए है, जिनमें जोखिम वाली संपत्तियों का कुल वैल्यू 5 करोड़ रुपए से ज्यादा और अधिकतम 50 करोड़ रुपए तक है।

भारत गृह रक्षा पॉलिसी

भारत गृह रक्षा पॉलिसी आगलगी, प्राकृतिक आपदा, किसी भी प्रकार के इंपैक्ट डैमेज, दंगा, हड़ताल, दुर्भावनापूर्ण तोड़फोड़, आतंकी गतिविधियों और पानी की टंकी का टूटना या पानी का बहना जैसे अनेक दुर्घटनाओं से सुरक्षा पेश करेगी। आवासीय मकानों को कवर करने के अलावा यह पॉलिसी खुद-ब-खुद सम अस्योर्ड के 20 फीसदी तक और अधिकतम 10 लाख रुपए तक साधारण घरेलू सामानों (विवरण डिक्लेयर करने की जरूरत नहीं होगी) को भी कवर करेगी। कोई ग्राहक डिटेल्स डिक्लेयर कर साधारण घरेलू सामानों के लिए ज्यादा सम अस्योर्ड का विकल्प भी चुन सकता है।

भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा और भारत लघु उद्यम सुरक्षा पॉलिसी

भारत सूक्ष्म उद्यम सुरक्षा और भारत लघु उद्यम सुरक्षा पॉलिसी सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (MSMEs) की सुरक्षा के लिए उपयोगी है। बीमा कंपनियों को बेसिक कवर, वैकल्पिक कवर (यदि कोई हो) और स्टैंडर्ड एड-ऑन्स के ऊपर अतिरिक्त कवर (एड-ऑन्स) देने की भी अनुमति होगी। नियामक ने कहा कि फायर एंड अलायड पेरिल्स इंश्योरेंस कारोबार को ऑल इंडिया फायर टैरिफ 2001 के दायरे से बाहर करने की प्रक्रिया कुल खास कारोबारों (आवासीय मकान और सूक्ष्म व मझोले उद्यम) के लिए 1 अप्रैल के प्रभाव से पूर्ण हो जाएंगी। यह प्रक्रिया प्राइसिंग आस्पेक्ट के डि-टैरिफिंग के साथ 2006-07 और 2007-08 में शुरू हुई थी।

Source link