ये बनी हुंडई की सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार, Verna और Creta की रही अच्छी मांग


हुंडई को आगामी महीनों में अपनी बिक्री के और रफ्तार पकड़ने की उम्मीद. (File Photo)

चालू वित्त वर्ष के पहले पांच माह में दक्षिण कोरिया की वाहन कंपनी भारत में यूटिलिटी वाहन खंड में सबसे आगे थी….

नई दिल्ली.  हुंडई मोटर इंडिया (Hyundai Motor India) को उम्मीद है कि आगामी महीनों में उसकी बिक्री और रफ्तार पकड़ेगी. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-अगस्त की अवधि में उसके कई मॉडल अपने खंड में बिक्री के मामले में सबसे आगे रहे हैं. चालू वित्त वर्ष के पहले पांच माह में दक्षिण कोरिया की वाहन कंपनी भारत में यूटिलिटी वाहन खंड में सबसे आगे थी. कंपनी के क्रेटा (creta) तथा वेन्यू मॉडल (venue) अपने खंड में सबसे आगे थे. वहीं वरना (Verna) मध्यम आकार के सेडान खंड में सबसे अधिक बिकने वाली कार थी.

एसयूवी के निचले खंड में इस अवधि में क्रेटा की बिक्री 33,726 इकाई रही. वहीं हुंडई की प्रतिद्वंद्वी किया की सेल्टोस की बिक्री 27,650 इकाई, महिंद्रा की स्कॉर्पियों की बिक्री 9,749 इकाई, एमजी हेक्टर की 7,294 इकाई तथा टाटा की हैरियर की बिक्री 3,493 इकाई रही. वहीं इस अवधि में सब-फोर कॉम्पैक्ट एसयूवी खंड में वेन्यू 20,372 इकाई की बिक्री के साथ सबसे आगे रही.

(ये भी पढ़ें- पेट्रोल और डीजल कार में से कौन सी है आपके लिए ज्यादा बेस्ट! यहां करें चेक)

इसके बाद मारुति की विटारा ब्रेजा 19,824 इकाई के साथ दूसरे और टाटा नेक्सन 13,169 इकाई के साथ तीसरे स्थान पर रही. हुंडई मोटर इंडिया लि. (एचएमआईएल) के निदेशक (बिक्री एवं विपणन) तरुण गर्ग ने कहा, ‘पूर्ण नई क्रेटा और वेन्यू अपने फीचर्स, कीमत का पूरा मूल्य प्रदान करने की वजह से ग्राहकों को आकर्षित कर रही हैं. इसके अलावा हमारा बिक्री बाद नेटवर्क (ऑफ्टर सेल्स नेटवर्क) भी काफी मजबूत है.’गर्ग ने कहा कि हम ग्राहकों की जरूरतों के अनुरूप उच्च गुणवत्ता वाले उत्पाद पेश करने को प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने कहा कि आगे भी हमें इन दो मॉडलों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है. अप्रैल-अगस्त की अवधि में एचएमआईएल की वरना मध्यम आकार के सेडान खंड में सबसे आगे रही. इस दौरान वरना की बिक्री 5,321 इकाई रही. वहीं होंडा सिटी की बिक्री 4,977 इकाई तथा मारुति सुजुकी की सियाज की बिक्री 3,271 इकाई रही.

ये भी पढ़ें : 2020 के अंत तक आने वाला है Maruti Alto का नया मॉडल, जानिए क्या होगी कीमत और फीचर्स?

कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते अप्रैल में कंपनी एक भी वाहन नहीं बेच पाई थी. मई में कंपनी की बिक्री 6,883 इकाई रही. जून में कंपनी की बिक्री 21,320 इकाई, जुलाई में 38,200 इकाई तथा अगस्त में 45,809 इकाई रही. गर्ग ने कहा कि आगामी त्योहारी सीजन में वाहन बाजार का रुख और सकारात्मक होगा. कंपनी को उम्मीद है कि इस दौरान उसकी बिक्री और बढ़ेगी.





Source link