होम Business रिफाइनिटिव डाटा: 2020 में 2.47 लाख करोड़ रुपए का प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट...

रिफाइनिटिव डाटा: 2020 में 2.47 लाख करोड़ रुपए का प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट मिला, इसमें 2019 के मुकाबले 108% की ग्रोथ

52


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें खबरःऐप

नई दिल्ली5 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

2019 में 665 डील्स के मुकाबले 2020 में कुल डील्स की संख्या 791 पर पहुंच गई है।

  • 2020 में रिलायंस जियो और रिटेल को सबसे ज्यादा PE निवेश मिला
  • तीसरी तिमाही में सबसे ज्यादा 24 बिलियन डॉलर का निवेश हुआ

कोरोना से प्रभावित रहने के बावजूद 2020 में प्राइवेट इक्विटी (PE) के जरिए देश में 33.8 बिलियन डॉलर करीब 2.47 लाख करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। एक साल पहले की समान अवधि के मुकाबले इसमें 108% की ग्रोथ रही है। इसमें से करीब 18 बिलियन डॉलर करीब 1.31 लाख करोड़ रुपए का इन्वेस्टमेंट रिलायंस ग्रुप की कंपनी रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल को मिला है।

डील्स की संख्या भी बढ़ी

रिफाइनिटिव के डाटा के मुताबिक, 2019 में कुल 665 डील्स के जरिए 16.2 बिलियन डॉलर का प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट मिला था। 2020 में इन सौदों की संख्या बढ़कर 791 पहुंच गई है जिनसे 33.8 बिलियन डॉलर का प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट मिला है। डाटा के मुताबिक, कुल प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट में से अकेले 24 बिलियन डॉलर का निवेश तीसरी तिमाही में मिला है। जबकि चौथी तिमाही में कुल 4.57 बिलियन डॉलर का निवेश मिला है।

इंटरनेट आधारित कंपनियों को ज्यादा निवेश मिला

डाटा के मुताबिक, 2020 में इंटरनेट आधारित कंपनियों ने सबसे ज्यादा प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट आकर्षित किया है। इस अवधि के दौरान इन कंपनियों को 7.4 बिलियन डॉलर का निवेश मिला है। 2019 में इंटरनेट आधारित कंपनियों को 5.5 बिलियन डॉलर का निवेश मिला था। इंडस्ट्री के आधार पर कम्युनिकेशन को 19.2 बिलियन डॉलर, इंटरनेट संबंधी और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर आधारित कंपनियों को 3.6 बिलियन डॉलर का निवेश मिला है।

इन सेक्टरों में निवेश घटा

2020 में फाइनेंशियल सर्विसेज, ट्रांसपोर्टेशन और कंप्यूटर हार्डवेयर से जुड़ी कंपनियों को मिलने वाले प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टमेंट में कमी आई है। डाटा के मुताबिक, फाइनेंशियल सर्विसेज को 1.4 बिलियन डॉलर, ट्रांसपोर्टेशन सेक्टर को 127 मिलियन डॉलर और कंप्यूटर हार्डवेयर सेक्टर से जुड़ी कंपनियों को 18.49 मिलियन डॉलर का निवेश मिला है। 2020 में ग्रोथ कैपिटल के लिए फंड रेजिंग में गिरावट के साथ 4.3 बिलियन डॉलर की राशि जुटाई गई है। 2019 में 7.25 बिलियन डॉलर का फंड जुटाया गया था।

2020 की टॉप-10 PE डील

कंपनी डील की वैल्यू
जियो प्लेटफॉर्म्स 15.68 बिलियन डॉलर
टावर इंफ्रास्ट्रक्चर ट्रस्ट 3.4 बिलियन डॉलर
फ्लिपकार्ट 1.2 बिलियन डॉलर
जियो डिजिटल फाइबर 1.016 बिलियन डॉलर
जोमैटो 826.42 मिलियन डॉलर
थिंक एंड लर्न 823 मिलियन डॉलर
ऑरेवल स्टे 807 मिलियन डॉलर
रिलायंस रिटेल 755.93 मिलियन डॉलर
SBI जनरल इंश्योरेंस 439 मिलियन डॉलर
पेप टेक्नोलॉजी 420 मिलियन डॉलर



Source link