शिकागो में हजारों लोगों ने की लूटपाट, 100 से ज्यादा गिरफ्तार और 13 अधिकारी घायल


अमेरिका के शिकागो में फिर लूटमार, 100 गिरफ्तार

शिकागो (Chicago violence and looting) में सोमवार को लगातार दूसरे दिन लूटपाट और हिंसा की घटनाएं जारी रहीं. हजारों की संख्या में लोग सड़क पर उतर आए और शॉपिंग मॉल और दुकानों में तोड़फोड़, लूटपाट और आगजनी भी की. इस दौरान कई जगहों पर पुलिस और लूटमार कर रहे लोगों के बीच फायरिंग भी हुई.

शिकागो. अमेरिका (US) के शिकागो (Chicago violence and looting) में सोमवार को लगातार दूसरे दिन लूटपाट और हिंसा की घटनाएं जारी रहीं. हजारों की संख्या में लोग सड़क पर उतर आए और शॉपिंग मॉल और दुकानों में तोड़फोड़, लूटपाट और आगजनी भी की. इस दौरान कई जगहों पर पुलिस और लूटमार कर रहे लोगों के बीच फायरिंग भी हुई. इस फायरिंग में 13 पुलिस अधिकारी भी घायल बताए जा रहे हैं. शिकागो के औद्योगिक क्षेत्र मेग्निफिसेंट माइल समेत ब्लैक आबादी वाले इलाकों में लूटमार की घटनाएं ज्यादा देखने को मिल रहीं हैं. करीब 100 से ज्यादा लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है.

शिकागो पुलिस चीफ डेविड ब्राउन ने कहा, ‘यह एक संगठित विरोध नहीं था बल्कि पूरी तरह से आपराधिक घटना है. 25 मई को पुलिस की गोली लगने से अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड नाम के शख्स की मौत हो गई थी. यह हिंसा तभी से चल रही है.’ मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को एक बार फिर शिकागो के पास स्थित एंगल-वुड में रविवार को लोग हिंसा पर उतर आए थे. पुलिस ने हिंसा को काबू में करने के लिए गोलियां चला दी. इसमें एक युवक घायल हो गया. इसके बाद हज़ारों लोग सड़कों पर उतर आए और स्थिति और भी ख़राब हो गयी. सोमवार को बड़ी संख्या में लोग सड़क पर उतर आए और शॉपिंग मॉल, दुकानों में लूटपाट करने लगे. पुलिस ने इसमें 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया. अभी अन्य अराजक लोगों की पहचान की जा रही है.

पुलिस ने अधिकारियों के घायल होने की बात नकारीपुलिस प्रवक्ता ने ट्वीट करके बताया कि गोलीबारी में कोई अधिकारी घायल नहीं हुआ. पुलिस के मुताबिक, अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की 25 मई को मिनियापोलिस में हुई मौत के चलते शिकागो में भारी विरोध-प्रदर्शन हुआ था. कई व्यापारिक संपत्तियों में तोड़फोड़ हुई. इसके चलते लंबे समय से सारे बाजार बंद थे. हाल ही में इसे दोबारा खोला गया जो सोमवार को फिर से हिंसा का शिकार हो गए. ब्राउन ने कहा कि अगली सूचना तक शहर के भीड़ भरे इलाके में भारी पुलिस बल की तैनाती की संभावना है.

शिकागो की मेयर लोरि लाइटफुट ने कहा, ‘ यह सीधे तौर पर आपराधिक कृत्य था. यह हमारे शहर पर हमला था.’ मैग्निफिसेंट माइल इलाके में रविवार मध्य रात्रि के कुछ ही देर बाद पुलिस विरोधी हालात बनने लगे और अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गई. इससे कुछ ही घंटे पहले करीब 16 किलोमीटर दूर स्थित पड़ोसी इलाके एंगलवुड में रविवार को पुलिस की गोली लगने से एक व्यक्ति के घायल होने के बाद दर्जनों लोग पुलिस से भिड़ गए थे. शिकागो के सबसे भीड़ भरे पर्यटन स्थल मैग्निफिसेंट माइल इलाके में उग्र भीड़ ने कई व्यापारिक प्रतिष्ठानों, दुकानों और होटलों आदि में लूटपाट की और संपत्ति को नुकसान पहुंचाया. शिकागो ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक, स्टोर में घुसते लोग दिखाई दे रहे थे जोकि सामान से भरा बैग लेकर बाहर निकल रहे थे.





Source link