Kapil Sharma to Shah Rukh Khan, several others have had to face BMC's wrath too | कंगना रनोट से पहले कपिल शर्मा और शाहरुख खान पर भी गिर चुकी बीएमसी की गाज, अवैध निर्माण के नाम पर की थी कार्रवाई


19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

9 सितंबर को कंगना रनोट के हिमाचल से मुंबई पहुंचने से पहले बीएमसी ने उनके मुंबई ऑफिस में अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई की। बीएमसी ने दफ्तर में दो घंटे तोड़फोड़ की। कंगना का दफ्तर मुंबई के बांद्रा में पाली हिल इलाके में है। उन्होंने 48 करोड़ रुपए खर्च कर बनवाया है।

यहां उनके प्रोडक्शन हाउस मणिकर्णिका फिल्म्स का ऑफिस है। यह कार्रवाई कंगना के उस बयान का नतीजा है जिसमें उन्होंने कुछ दिन पहले मुंबई की तुलना पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) से कर दी थी।

तोड़फोड़ के बाद कंगना के ऑफिस का हाल

तोड़फोड़ के बाद कंगना के ऑफिस का हाल

कंगना के इस बयान से शिवसेना भड़क गई थी और ऐसा माना जा रहा है कि उन्हें सबक सिखाने के लिए ऑफिस तुड़वाने की कार्रवाई की गई। इस कार्रवाई से तिलमिलाई कंगना ने बीएमसी को बाबर की आर्मी करार दिया और अपने ऑफिस को उन्होंने मंदिर कहा जिसे वह दोबारा बनवाएंगी। वैसे ये पहला मौका नहीं है जब सेलेब्स बीएमसी के निशाने पर आए हों। इससे पहले भी सेलेब्स के खिलाफ बीएमसी सख्त कार्रवाई कर चुकी है।

कपिल शर्मा

2016 में कपिल शर्मा ने नरेंद्र मोदी से करप्शन की शिकायत की थी। उन्होंने ट्वीट कर कहा था “मैं पिछले पांच साल से 15 करोड़ रुपए टैक्स भर रहा हूं। लेकिन मुझे ऑफिस बनाने के लिए बीएमसी को 5 लाख की घूस देनी होगी।”क्या ये हैं अच्छे दिन? कपिल के कमेंट्स के बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने कहा था कि पूरी जानकारी दें।

कपिल ने बीएमसी अधिकारियों द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत नरेंद्र मोदी से की थी।

कपिल ने बीएमसी अधिकारियों द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत नरेंद्र मोदी से की थी।

उधर, बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन (बीएमसी) ने दावा किया था कि एक्टर को गैरकानूनी कंस्ट्रक्शन के लिए नोटिस भेजा गया था, लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिया। वे जहां ऑफिस बना रहे थे, उस जगह का कॉमर्शियल इस्तेमाल नहीं हो सकता है।

बीएमसी ने इस मामले में 16 जुलाई को उन्हें एक नोटिस भेजा था और काम रोकने के लिए कहा था। उसके बाद भी कपिल ने निर्माण जारी रखा। जिसके बाद 4 अगस्त, 2016 को वर्सोवा स्थित कपिल शर्मा के बंगले के बगल में अवैध निर्माण पर बुलडोजर चला दिया था।

शाहरुख खान

शाहरुख पर 2015 में उनके पड़ोसियों ने अतिक्रमण करने का आरोप लगाया था। दरअसल, शाहरुख के बंगले मन्नत के पास एक रैंप स्थित था जिसपर शाहरुख बीते कई सालों से अपनी वैनिटी वैन पार्क करते थे।

मन्नत के बाहर रैंप हटाने का काम करता बीएमसी।

मन्नत के बाहर रैंप हटाने का काम करता बीएमसी।

पड़ोसियों का कहना था कि शाहरुख की वैन की वजह से एक महत्वपूर्ण रास्ता बंद हो गया, जिससे होकर वे बैंडस्टैंड के माउंट मैरी चर्च में जाया करते थे। लोगों की शिकायत के बाद बीएमसी ने 14 फरवरी, 2015 को इस रैंप को तोड़ दिया था और शाहरुख से 1.95 लाख रु. का जुर्माना भी वसूला था।

अरशद वारसी

2017 में अरशद भी बीएमसी के निशाने पर आए थे। बीएमसी ने अरशद के बंगले के कुछ हिस्सों को गिरा दिया था। अरशद के बंगले पर चार महीने पुरानी शिकायत के बाद कार्रवाई की गई थी जो कि उन्हीं के सोसाइटी मेंबर्स ने की थी। बीएमसी ने अरशद को पहले नोटिस भेजा था लेकिन कोई जवाब ना मिलने पर बंगले का एक हिस्सा गिरा दिया।

0



Source link