Maruti Suzuki ने की सितंबर में बंपर बिक्री! 33% बढ़ी सेल, लॉकडाउन के बाद कारों की बिक्री में आई तेजी


नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) (एमएसआई) ने गुरुवार को यात्री वाहन बिक्री में 33 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की है. एमएसआई ने एक बयान में कहा कि कंपनी ने सितंबर में 1,47,912 इकाई बेचीं हैं. मारुति द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक एक साल पहले सितंबर महीने में कंपनी ने 1,10,454 इकाइयाँ बेचीं थी.

MSIL ने बताया कि अप्रैल से सितंबर की अवधि में (वित्त वर्ष 20-21 के एच 1), कंपनी ने 4.24 लाख इकाइयों में 36.1 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की. पहली छमाही में कंपनी की बिक्री पर COVID-19 महामारी की वजह से भारी असर पड़ा. बता दें कि कंपनी ने सितंबर 2020 में 7,834 इकाइयों का निर्यात किया, जिसमें 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई.

ये भी पढ़ें:- जल्द ट्रेन में नहीं मिलेंगी खाने पीने की चीजें, जानिए रेल मंत्रालय का प्लान

मिड-साइज़ कारों की बिक्री का आंकड़ामारुति सुजुकी को 10.6% सियाज के नेतृत्व वाले मिड-साइज़ सेडान सेगमेंट में गिरावट का सामना करना पड़ा है. एर्टिगा, एस-क्रॉस, विटारा ब्रेज़ा, एक्सएल 6 जैसी utility vehicle segment की गाड़ी की बिक्री में 10.1% की वृद्धि देखी गई.

मिनी कारों की सेल इतनी बढ़ी
मिनी, कॉम्पैक्ट और यूटिलिटी व्हीकल सेगमेंट सितंबर के महीने में मारुति सुजुकी के लिए बिक्री के महत्वपूर्ण चालक थे. ऑल्टो और एस-प्रेसो वाले मिनी सेगमेंट ने 27,246 इकाइयों पर 35.7% की वृद्धि दर्ज की. कॉम्पैक्ट सेगमेंट (वैगनआर, स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो, डिजायर, टूर एस) 84,213 इकाइयों पर 47.3% की तेज वृद्धि देखी गई.

पिछले महीने रहा था ये हाल 

अगस्त में बिक्री में 17.1 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 1,24,624 इकाइयों की वृद्धि दर्ज की है. एमएसआई ने एक बयान में कहा कि कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 1,06,413 यूनिट्स की बिक्री की थी. पिछले साल की तुलना में घरेलू बिक्री 20.2 प्रतिशत बढ़कर 1,16,704 इकाई हो गई, जो अगस्त 2019 में 97,061 इकाई थी. ऑल्टो और वैगनआर (Alto, Wag-nor) जैसी मिनी कारों की बिक्री पिछले साल के इसी महीने में 10,123 इकाइयों की तुलना में 19,709 इकाई रही, जो 94.7 प्रतिशत थी. पिछले साल अगस्त में 54,274 कारों की तुलना में स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर जैसे मॉडलों की बिक्री 14.2 प्रतिशत बढ़कर 61,956 इकाई हो गई.





Source link