Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें खबरः ऐप

नई दिल्ली11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने फ्रॉड के नए तरीके को लेकर चेतावनी जारी की है। साइबर अपराधी बैंकों के टोल फ्री नंबर के समान मोबाइल नंबर का उपयोग करके लोगों के साथ धोखाधड़ी को अंजाम दे रहे हैं।

जानिए कैसे होता है ठगी

साइबर अपराधी बैंक के टोल फ्री नंबर से मिलते जुलते नंबर लेकर उसे ट्रू कॉलर जैसे ऐप पर किसी भी बैंक या फाइनेंशियल कंपनी के नाम से रजिस्टर कर लेते हैं। जब आप ट्रू कॉलर की मदद से कॉल करते हैं या आपको कॉल आती है तो आप धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं।

बचने के लिए क्या करें ?

अगर आप किसी बैंक या फाइनेंशियल कंपनी को फोन करने जा रहे हैं तो उसके ट्रोल फ्री नंबर की पूरी जानकारी आपके पास होनी चाहिए। वहीं, कभी भी किसी बैंक के टोल फ्री नंबर पर आप अपनी सभी जानकारी शेयर न करें।



Source link